BREAKING

टेक्नोलॉजी

फर्राटेदार रेंज के साथ मार्केट में आ गयी cultivator machine जाने इसमें सेफ्टी का किस तरह से किया पूरा इंतजाम…

Nice machine came in the market, 1 घंटे में होगी 4 एकड़ की गहरी जुताई, दरअसल लंबे समय तक खेत की गहरी जुताई न होने की वजह से फसल उत्पादन में गिरावट आ जाती है. इसके अलावा मिट्टी की जलधारण क्षमता भी खत्म हो जाती है. मिट्टी में वायु संचार ना होने की वजह से वह मिट्टी नाइट्रोजन की कमी भी होती है. लेकिन अगर किसान किसी भी फसल की बुवाई से पहले कैल्टीवेटर से गहरी जुताई कर दें तो उन्हें कई तरह की समस्याओं से निजात मिल जाएगी. कैल्टीवेटर एक ऐसा यंत्र है जिससे जिस खेत की गहरी जुताई की जा सकती है, इसे ट्रैक्टर के साथ चलाया जाता है.It is run with a tractor.

Guru Ramdas Agro के मालिक और कृषि यंत्र एक्सपर्ट रंजीत सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि पहले किसान बैलों की जोड़ी द्वारा खींचे जाने वाले तिफारा से खेत की गहरी जुताई किया करते थे, लेकिन बदलते वक्त के साथ खेती में कई तब्दीलियां आईं और कैल्टीवेटर का आविष्कार हुआ. कैल्टीवेटर को ट्रैक्टर के पीछे जोड़कर खेत की जुताई की जाती है. कैल्टीवेटर अलग-अलग साइज और वजन के आते हैं.

Cultivator is useful for farmers

कृषि यंत्र एक्सपर्ट रंजीत सिंह ने बताया कि कैल्टीवेटर से खेत की गहरी जुताई की जाती है. गहरी जुताई से मिट्टी की जल धारण क्षमता बढ़ती है. इसके अलावा मिट्टी में वायु संचार होता है, जिससे वायुमंडल में मौजूद नाइट्रोजन को मिट्टी अवशोषित कर लेती है. लगातार गहरी जुताई न होने की वजह से मिट्टी में ही एक परत बन जाती है, जिसको तोड़ने के लिए कैल्टीवेटर का इस्तेमाल किया जाता है. इसके अलावा अगर खेत में नमी ज्यादा हो तो कैल्टीवेटर से खेत की जुताई कर दी जाए तो खेत जल्द बुवाई के लिए तैयार हो जाता है.

Which cultivator will be right for which tractor?

रंजीत सिंह ने बताया कि कैल्टीवेटर के साइज टाइन के आधार पर तय होते हैं. 35 से 40 हॉर्स पावर के ट्रैक्टर के लिए 7 टाइन के कल्टीवेटर का इस्तेमाल किया जाना चाहिए. 40 से 45 हॉर्स पावर के ट्रैक्टर के लिए 11 टाइन और 50 से 60 हॉर्स पावर के ट्रैक्टर के लिए 13 टाईन वाला कल्टीवेटर इस्तेमाल करने की सलाह दी जाती है. जिससे किसानों को ट्रैक्टर से अच्छा माइलेज मिलता है, ट्रैक्टर पर किसी तरह का अतिरिक्त बोझ नहीं पड़ता.

The price is decided on the basis of tine

कृषि यंत्र एक्सपर्ट रंजीत सिंह ने बताया कि 9 टाइन के कैल्टीवेटर की कीमत 22 हजार रुपये से 30 हजार 5 सौ रुपये तक रहती है. 11 टाइन के कैल्टीवेटर की के दाम 25 हजार से 37 हजार रुपये और 13 टाइन के कैल्टीवेटर की कीमत 32 हजार रुपये से 40 हजार 5 सौ रुपये तक रहती है.

How much field will be plowed in one hour

9 टाइन के कैल्टीवेटर से 1 घंटे में करीब 2 एकड़ खेत की जुताई की जा सकती है. इसके अलावा 11 टाइन के कल्टीवेटर से 3 एकड़ और 13 टाइम के कैल्टीवेटर से करीब 3.5 एकड़ की प्रति घंटे में जुताई की जा सकती है.
कैल्टीवेटर में आने लगा सेफ्टी बोल्ट

कृषि यंत्र एक्सपर्ट रंजीत सिंह ने बताया कि कई बार किसानों के खेत के किनारे पेड़ या फिर बिजली के खंभे लगे होते हैं. ऐसे में कैल्टीवेटर की टाइन अगर पेड़ की जड़ में फंस जाए तो कैल्टीवेटर में टूट फूट हो जाती थी. लेकिन लुधियाना की दशमेश एग्रो द्वारा एक ऐसा कैल्टीवेटर तैयार किया हैं, जिसमें टाइन में सेफ्टी बोल्ट लगा रहता है. टाइन पेड़ की जड़ में फंस जाती है तो सेफ्टी बोल्ट ऑटोमेटिक टूट जाता है. जिससे कैल्टीवेटर में किसी तरह का कोई नुकसान नहीं होता, यह सेफ्टी बोल्ट किसान दोबारा से बाजार से 10 रुपये में खरीद कर लगा सकते हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts