BREAKING

छत्तीसगढ़

शराबबंदी की मांग करने वाली भाजपा सरकार में शराब का धंधा कर रही है

रायपुर/ प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि विपक्ष में रहते भाजपा सरकार से शराबबंदी की मांग करती थी सत्ता मिलते ही शराब का धंधा शुरू कर दिया। भाजपा की सरकार शराबबंदी योजना को बंद करके शराब की खरीदी और बिक्री का धंधा कर रही है। कांग्रेस सरकार के दौरान भाजपा नेता शराबबंदी की मांग करते थे और शराब को महिलाओं के घर तोड़ने का प्रमुख कारण बताते थे और महिलाओं का हितैषी होने का घड़ियाल आंसू बहते थे और राजनीति करते थे। सत्ता मिलने के बाद वहीं भाजपा महिलाओं के घर उजाड़ने वाले सामान का धंधा शुरू कर दिया। इनका लक्ष्य पूरे प्रदेश में गांव-गांव और घर-घर शराब पहुंचाना है।भाजपा का यह दोगला चरित्र प्रदेश के महिलाओं को समझना होगा।

प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस सरकार के दौरान शराब बंदी की दिशा में काम किया गया 100 से अधिक शराब दुकान को बंद किया गया प्रति व्यक्ति शराब की खपत में कमी आई और शराब छोड़ने वालों की संख्या बढ़ी है। शराबबंदी के लिए सामाजिक संगठनों के द्वारा मिले सुझाव पर कांग्रेस की सरकार ने काम किया था

प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि 15 साल के भाजपा सरकार के दौरान शराब का सरकारी कारण किया गया 138 साल पुरानी आबकारी नीति को बदल गया था उसे दौरान शराब के कमीशन को लेकर भाजपा सरकार के मंत्रियों के बीच में विवाद हुआ था आज एक बार और भाजपा की सरकार शराब के जरिए मुनाफाखोरी करना चाहती है कमीशन खोरी करना चाहती है कोचिया गिरी को बढ़ाना चाहती है महिलाओं के घर को उजाड़ना चाहती है।

Related Posts