BREAKING

टेक्नोलॉजी

CPCB 4 Plus Diesel Genset लॉन्च, महिंद्रा पावरोल अधिकृत जीओईएम शारदा डीजल प्रा लि का उन्नत उत्पाद

रायपुर, महिंद्रा पावरोल अधिकृत जीओईएम शारदा डीजल प्राइवेट लिमिटेड ने आज छत्तीसगढ़ के रायपुर में अपना सीपीसीबी 4 प्लस डीजल जेनसेट लॉन्च किया। उत्पाद आज प्रदर्शन के लिए उपलब्ध है।

CPCB 4 Plus Genset का निर्माण 10 केवीए से 320 केवीए तक रांची, झारखंड में शारदा डीजल के प्लांट में किया जाता है। इन इंजनों को चेन्नई में महिंद्रा रिसर्च वैली में इसके अनुसंधान एवं विकास केंद्र में डिजाइन किया गया है एवं पुणे और नागपुर में इसके संयंत्र में निर्मित किया गया है। सीपीसीबी 4 प्लस (10 केवीए से 320 केवीए  की यह नई रेंज महिंद्रा पावरोल का नवीनतम संयोजन है जो पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय द्वारा घोषित नवीनतम उत्सर्जन मानदंडों के अनुरूप है। ये जेनसेट तकनीकी रूप से उन्नत सीआरडीआई इंजन से सुसज्जित हैं।

CRDI engine बेहतर और उन्नत कॉमन रेल डीजल इंजन (सीआरडीई) तकनीक से संचालित होते हैं। सीआरडीई तकनीक भविष्य के लिए तैयार है और भारी शुल्क प्रदर्शन और ईंधन दक्षता के लिए जानी जाती है। यह मानक उत्सर्जन मानदंडों से परे जाकर प्रदूषण को काफी कम करता है।

CPCB 4 Plus norms का लक्ष्य नाइट्रोजन ऑक्साइड , पार्टिकुलेट मैटर , और हाइड्रोकार्बन जैसे प्रदूषकों के उत्सर्जन को 90 प्रतिशत तक कम करना है। यह पर्यावरण के अनुकूल और स्वच्छ है, स्वास्थ्य के लिए लाभकारी है, उन्नत प्रौद्योगिकी है, ईंधन कुशल है और ग्राहकों के लिए लागत बचत है।

आज का लॉन्च सीपीसीबी 4 प्ल्स डीजल जनरेटर में प्रवेश का प्रतीक है। उपभोक्ताओं को उन्नत और सुलभ तकनीकों की पेशकश करना Mahindra’s continuous efforts है, नवीनतम तकनीक के साथ 10 केवीए से 320 केवीए डीजी की बिल्कुल नई रेंज इस दर्शन की गवाही देती है। यह भविष्य के लिए तैयार तकनीक कम परिचालन लागत पर कम उत्सर्जन और उच्च प्रदर्शन प्रदान करने के लिए तैयार है, जिससे ग्राहक केंद्रितता में मानक बढ़ जाएगा।

Mahindra Powerol DG Set भारत में सबसे व्यापक सेवा नेटवर्क द्वारा समर्थित हैं। ग्राहक को तत्काल सहायता प्रदान करने के लिए नेटवर्क बहुत अच्छी तरह से सुसज्जित है। विशेषज्ञों की टीम ग्राहक को कम से कम समय में मदद करने के लिए सबसे इष्टतम और उपयुक्त समाधान चुनने में मदद कर सकती है।

Related Posts