Ranchi news

झारखंड में तीसरे मोर्चे का गठन, झारखंड लोकतांत्रिक मोर्चा में शामिल हैं ये 5 विधायक

झारखंड में तीसरे मोर्चे का गठन, झारखंड लोकतांत्रिक मोर्चा में शामिल हैं ये 5 विधायक

झारखंड की सियासत में आज शुक्रवार को बड़ा उलट-फेर दिखा. निर्दलीय व कुछ राजनीतिक पार्टियों के नेताओं ने एक मंच पर आकर तीसरे मोर्चे के गठन की घोषणा की. झारखंड विधानसभा में संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी घोषणा की गयी. इसका नाम झारखंड लोकतांत्रिक मोर्चा रखा गया है.

Jharkhand News: झारखंड विधानसभा का बजट सत्र चल रहा है. इस बीच शुक्रवार को झारखंड की राजनीति में बड़ा बदलाव दिखा. राज्य में तीसरे मोर्चे का गठन किया गया है. इसका नाम झारखंड लोकतांत्रिक मोर्चा रखा गया है. आजसू पार्टी के सुप्रीमो सुदेश महतो को विधायक दल का नेता चुना गया है. इस मोर्चे में विधायक सरयू राय, विधायक कमलेश सिंह, विधायक अमित यादव व विधायक लंबोदर महतो शामिल हैं. झारखंड विधानसभा में संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी घोषणा की गयी.

ये पार्टियां हैं शामिल

झारखंड की सियासत में आज शुक्रवार को बड़ा उलट-फेर दिखा. निर्दलीय व कुछ राजनीतिक पार्टियों के नेताओं ने एक मंच पर आकर तीसरे मोर्चे के गठन की घोषणा की. झारखंड विधानसभा में संयुक्त प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इसकी घोषणा की गयी. इसका नाम झारखंड लोकतांत्रिक मोर्चा रखा गया है. तीसरे मोर्चे में आजसू पार्टी, एनसीपी और निर्दलीय विधायक शामिल हैं.

तीसरे मोर्चे में शामिल हैं पांच विधायक

झारखंड में नवगठित तीसरे मोर्चे में पांच विधायक शामिल हैं. इनमें आजसू पार्टी से विधायक सुदेश महतो और लंबोदर महतो शामिल हैं. एनसीपी के विधायक कमलेश सिंह और विधायक सरयू राय व अमित यादव इस मोर्चे में शामिल हैं.

झारखंड में पेयजल की समस्याओं का चुटकी में होगा समाधान, कॉल सेंटर में ऐसे कर सकेंगे शिकायत

झारखंड में पेयजल की समस्याओं का चुटकी में होगा समाधान, कॉल सेंटर में ऐसे कर सकेंगे शिकायत

राज्यस्तरीय वेब आधारित कॉल सेंटर का उद्घाटन झारखंड के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने विधानसभा स्थित कक्ष से किया. उन्होंने कहा कि कॉल सेंटर सुबह आठ से लेकर रात्रि आठ बजे तक निर्बाध रूप से कार्य करेगा.

Jharkhand News: पेयजल की समस्या 

Jharkhand News: झारखंड में पेयजल एवं स्वच्छता विभाग से संबंधित सभी प्रकार की जन-शिकायतों के त्वरित निष्पादन एवं मॉनीटरिंग के लिए राज्यस्तरीय वेब आधारित कॉल सेंटर का उद्घाटन पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर ने गुरुवार को विधानसभा स्थित कक्ष से किया. उन्होंने कहा कि कॉल सेंटर सुबह आठ बजे से लेकर रात्रि आठ बजे तक निर्बाध रूप से कार्य करेगा. आप कॉल सेंटर में पेयजल से जुड़ी समस्याओं की शिकायत करें. उसका त्वरित समाधान किया जायेगा. गर्मी को देखते हुए इसकी सुविधा बहाल की गयी है, ताकि पेयजल की किल्लत का सामना लोगों को नहीं करना पड़े.

ऐसे कर सकेंगे शिकायत

झारखंड में राज्यस्तरीय कॉल सेंटर का संचालन रांची के डोरंडा स्थित पीएमयू कार्यालय से किया जायेगा. इस कॉल सेंटर में जन शिकायतों को विभिन्न माध्यमों जैसे झारजल मोबाइल एप, व्हाट्सएप, ईमेल, टॉल फ्री नंबर आदि पर दर्ज करायी जा सकती है. सुबह आठ बजे से लेकर रात्रि आठ बजे तक निर्बाध रूप से ये कॉल सेंटर कार्य करेगा. आप अपनी शिकायत दर्ज करा सकेंगे.

इन नंबरों पर करें शिकायत

झारखंड के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर ने बताया कि इस कॉल सेंटर में टॉल फ्री नंबर 18003456502 एवं मोबाइल नंबर/व्हाट्सएप नंबर 9470176901, ईमेल आईडी callcentredwsd-jharkhand@gmail.com एवं jhar-jal mobile app पर शिकायत दर्ज करायी जा सकेगी.

ऐसे होगी कार्रवाई

झारखंड के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर ने कहा कि जनता से प्राप्त शिकायतों की कॉल सेंटर के कर्मियों द्वारा jharjal-jharkhand.gov.in पर इंट्री की जायेगी. सभी शिकायतों को संबंधित पदाधिकारियों को भेजते हुए वेब पोर्टल से बेहतर प्रबंधन एवं अनुश्रवण करने का निर्देश दिया जायेगा.