Drinking water problem

बागबेड़ा ग्रामीण जलापूर्ति योजना बड़ौदा घाट नदी में बनाए गए 11 पाए में से एक पाया गिर चुका, दो और गिरने वाला ग्रामीणों ने आंदोलनकारी सुबोध झा को दी जानकारी

बागबेड़ा ग्रामीण जलापूर्ति योजना बड़ौदा घाट नदी में बनाए गए 11 पाए में से एक पाया गिर चुका, दो और गिरने वाला ग्रामीणों ने आंदोलनकारी सुबोध झा को दी जानकारी

Jamshedpur :- बागबेड़ा ग्रामीण जलापूर्ति योजना के लिए बरोदा घाट में बनाए गए 22 पाया में से 11 पाया का निर्माण हो चुका है निर्माण के कुछ ही महीनों बाद एक पाया नदी में गिर गया और ग्रामीणों ने बताया कि दो पाया कभी भी गिर सकती है। इसकी सूचना मिलते ही बागबेडा महानगर विकास समिति एवं संपूर्ण घाघीडीह विकास समिति के संरक्षक सह अध्यक्ष ग्रामीण जलापूर्ति योजना के आंदोलनकारी सुबोध झा के अगुवाई में समिति के सदस्यों ने बागबेड़ा के बरोदा घाट में बनाए गए पाए का निरीक्षण करने पहुंचे।

आंदोलनकारी सह भाजपा नेता सुबोध झा ने कहा बागबेड़ा ग्रामीण जलापूर्ति योजना धरातल पर अभी उत्तरी भी नहीं है। और योजना ध्वस्त होने लगी है। सुबोध झा ने पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के अधीक्षक अभियंता श्री शिशिर सोरेन जी को इसकी जानकारी दे दी हैl

बड़ौदा घाट नदी में गिरा हुआ पाया

अधीक्षक अभियंता शिशिर सोरेन ने कहा एक-से दो दिन में मैं बरोदा घाट में जो बनाए गए पाए हैं उसका निरीक्षण करूंगा क्योंकि उसी के ऊपर से पाइप लाइन को गुजरना है। अगर पाया सही सलामत नहीं होंगे तो घरों तक पानी पहुंचने में विलंब होगी ,सभी कार्यों को सही रूप से पूर्ण कराया जाएगा।

आंदोलनकारी सुबोध झा ने कहा योजना का शुभारंभ होने पर सभी आंदोलनकारी सभी जनता जनार्दन इसका स्वयं निरीक्षण करें सही रूप से कार्य हो इसके लिए सभी लोग बढ़ चढ़कर हिस्सा लें और अच्छे तरीके से काम करवा कर इस योजना का लाभ आम जनता को उपलब्ध कराएं और आप सभी जनता इसका लाभ लें।

पूर्व में भी निरीक्षण करते आंदोलनकारी

आज के इस निरीक्षण के कार्यक्रम में मुख्य रूप से जल आंदोलनकारी सुबोध झा के साथ आंदोलनकारी छोटे राय मुर्मू, कृष्णा चंद्र पात्रो, ऋतु सिंह, प्रभा हास्दा, सपन कुमार दास, डॉ संदीप कुमार, अमीना खातून, सावित्री कुमारी ,श्वेता कुमारी, विमल कुमार, विश्वजीत पात्रो आदित्य कुमार झा, मनोज कुमार सिंह राकेश कुमार एवं अन्य लोग शामिल थे।

Bagbera पंचायत अंतर्गत पोस्तुनगर के ग्रामीणों को हो रही पानी की दिक्कत, जनप्रतिनिधियों को भी दिया गया सूचना, परंतु कोई सुनवाई नहीं श्रमदान कर लगाया मोटर

Bagbera पंचायत अंतर्गत पोस्तुनगर के ग्रामीणों को हो रही पानी की दिक्कत, जनप्रतिनिधियों को भी दिया गया सूचना, परंतु कोई सुनवाई नहीं श्रमदान कर लगाया मोटर

  Jamshedpur :- बागबेड़ा कॉलोनी पंचयात अंतर्गत पोस्तुनगर में विगत तीन महीनों से खराब पड़े मोटर के कारण लगभग 400 घरों के लोग जल की समस्या से प्रभावित हो रहे थेl जिसके वजह से रोजमर्रा की जिंदगी जो है वह अस्त व्यस्त सा हो गई l बस्ती के लोगों को जीवन यापन करने हेतु दूर दराज से पानी ला कर किसी तरह जीवन यापन करना पड़ रहा थाl

मुखिया बहामुनी हेंब्रम को कई बार दे चुके हैं लिखित आवेदन

पोस्तु नगर के निवासियों का कहना है कि हम लोगों ने कई बार यहां के मुखिया बहामुनी हेंब्रम, जिला परिषद सदस्य एवं वार्ड सदस्य को भी को भी इसकी सूचना लिखित के तौर पर दी गई है इसके बावजूद हम लोगों को किसी प्रकार का आश्वासन या सहायता नहीं दिया गया l

श्रमदान कर बनाया गया मोटर, पानी की किल्लत हुई दूर

लोगों का कहना है कि निष्कर्ष न निकलते देख ग्रामीणों ने चंदा इकठा कर नया मोटर एवं जरूरत के सभी उपकरण लाया एवं मोटर बोरिंग में डाल कर पानी उपलब्ध कराया गया जिससे यहा के 400 घरों को पानी मिलना सुनिश्चित हुआ।

इस नेक कार्य में विशेष रूप से उपस्थित युवा जनशक्ति मोर्चा के कोल्हान प्रभारी पवन श्रीवास्तव, आदित्य पासवान, रोशन शर्मा, भोला भगत, मनीष यादव, मंगल शर्मा, छोटू शर्मा, बंटी, राजेश, लालू एवं ग्रामीण उपस्थित थे।

 

 

बागबेड़ा कॉलोनी के जनता को मिला आश्वासन, जल्द मिलेगा जूस्को द्वारा शुद्ध पेयजल – आर.के. सिंह

बागबेड़ा कॉलोनी के जनता को मिला आश्वासन, जल्द मिलेगा जूस्को द्वारा शुद्ध पेयजल – आर.के. सिंह

बागबेड़ा हाउसिंग कॉलोनी जलापूर्ति योजना को जूस्को से पानी संचालित करने को लेकर जूस्को के बाहरी परियोजना प्रमुख, पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के एसडीओ एवं जूनियर इंजीनियर ने संयुक्त रूप से बिष्टुपुर स्थित फिल्टर पंप हाउस बागबेड़ा स्थित पानी टंकी एवं बागबेड़ा हाउसिंग कॉलोनी का निरीक्षण किया

बागबेड़ा हाउसिंग कॉलोनी जलापूर्ति योजना को जुस्को से पानी संचालित करने को लेकर जुस्को के बाहरी परियोजना प्रमुख आर के सिंह से पिछले तीसरी वार्ता के पश्चात शुक्रवार को बिष्टुपुर स्थित फिल्टर पंप हाउस, बागबेड़ा हाउसिंग कॉलोनी, रोड नंबर एक स्थित पानी टंकी पंप हाउस एवं बागबेड़ा हाउसिंग आवासीय कॉलोनी के छह रोडो का आर के सिंह एवं पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के एसडीओ सुनील दत्त मिश्रा एवं जूनियर इंजीनियर सत्यप्रकाश पांडे संयुक्त रुप से अपने पूरे टीम के साथ निरीक्षण किए। निरीक्षण के दौरान जमशेदपुर प्रखंड अध्यक्ष बहादुर किस्कू, बागबेड़ा इकाई अध्यक्ष अजीत सिन्हा, बन्ना गुप्ता फैंस क्लब के अध्यक्ष अनिल सिंह,बागबेड़ा कॉलोनी पंचायत के उप मुखिया सुनील गुप्ता एवं समाजसेवी वीरेंद्र यादव उपस्थित थे।
निरीक्षण के दौरान जुस्को एवं पीएचडी विभाग के संयुक्त टीम ने बिष्टुपुर स्थित फिल्टर पंप हाउस का मोटर ,फिल्टर प्लांट, पंप , स्टार्टर, टंकी, राइजिंग पाइप का सेटअप और बागबेड़ा हाउसिंग कॉलोनी रोड नंबर 1 स्थित पानी टंकी एवं मोटर पंप का सेटअप देखने के पश्चात एक-एक चीजों की कार्यरत ऑपरेटर से जानकारी हासिल किए।
जानकारी हासिल करने के पश्चात जुस्को के बाहरी परियोजना प्रमुख आर के सिंह ने बागबेड़ा हाउसिंग कॉलोनी के जनता को आश्वासन दिया है की बहुत जल्द जुस्को के द्वारा शुद्ध पेयजल की आपूर्ति की जाएगी। इसके लिए अप्रैल के पहले हफ्ते से हमारी टीम पीएचडी विभाग के पदाधिकारियों के साथ मिलकर बिष्टुपुर फिल्टर प्लांट हाउस से लेकर बागबेड़ा कॉलोनी के फिल्टर प्लांट हाउस तक के सभी स्थापित उपकरणों की गुणवत्ता की जांच की जाएगी। तत्पश्चात डीपीआर बनाकर राज्य सरकार को भेज दी जाएगी।
पीएचडी विभाग के एसडीओ सुनील दत्त मिश्रा एवं जूनियर इंजीनियर सत्य प्रकाश पांडे ने संयुक्त रूप से बताया कि राज्य सरकार इस योजना को जुस्को द्वारा सुचारू करने के लिए तैयार है। इस योजना को धरातल पर उतारने में जुस्को को जो भी मदद की आवश्यकता होगी जमशेदपुर पीएचडी विभाग हर संभव प्रयास करेगी।
विदित हो कि पानी की समस्या का स्थाई समाधान को मध्यनजर रखते हुए पोटका विधानसभा क्षेत्र के विधायक संजीव सरदार पिछले 2 सालों से प्रयासरत है। इस संदर्भ में उन्होंने विधान सभा पटल में आवाज भी उठा चुके हैं। इस संदर्भ में झामुमो जमशेदपुर प्रखंड अध्यक्ष बहादुर किस्कू, बागबेड़ा इकाई अध्यक्ष अजीत सिन्हा, बन्ना गुप्ता फैंस क्लब के अध्यक्ष अनिल सिंह, बागबेड़ा कॉलोनी पंचायत के उप मुखिया सुनील गुप्ता, समाजसेवी वीरेंद्र यादव ने 800 लोगों का हस्ताक्षर युक्त सार्वजनिक याचिका तत्कालीन उपायुक्त सूरज कुमार, जुस्को के कैप्टन धनंजय मिश्रा, मंत्री मिथिलेश ठाकुर, रांची पीएचडी विभाग के अधीक्षण अभियंता प्रमुख, रांची हाउसिंग बोर्ड के कार्यपालक अभियंता, जमशेदपुर आदित्यपुर पीएचडी विभाग के अधीक्षण अभियंता, कार्यपालक अभियंता को दे चुके हैं तथा कई बार उपरोक्त सारे पदाधिकारियों से वार्ता भी कर चुके हैं। इस संदर्भ में राज्य सरकार डीपीआर की कुल लागत ब्यय करने को तैयार है एवं झारखंड हाउसिंग बोर्ड अनापत्ति प्रमाण पत्र देने को तैयार है।

झारखंड में पेयजल की समस्याओं का चुटकी में होगा समाधान, कॉल सेंटर में ऐसे कर सकेंगे शिकायत

झारखंड में पेयजल की समस्याओं का चुटकी में होगा समाधान, कॉल सेंटर में ऐसे कर सकेंगे शिकायत

राज्यस्तरीय वेब आधारित कॉल सेंटर का उद्घाटन झारखंड के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश ठाकुर ने विधानसभा स्थित कक्ष से किया. उन्होंने कहा कि कॉल सेंटर सुबह आठ से लेकर रात्रि आठ बजे तक निर्बाध रूप से कार्य करेगा.

Jharkhand News: पेयजल की समस्या 

Jharkhand News: झारखंड में पेयजल एवं स्वच्छता विभाग से संबंधित सभी प्रकार की जन-शिकायतों के त्वरित निष्पादन एवं मॉनीटरिंग के लिए राज्यस्तरीय वेब आधारित कॉल सेंटर का उद्घाटन पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर ने गुरुवार को विधानसभा स्थित कक्ष से किया. उन्होंने कहा कि कॉल सेंटर सुबह आठ बजे से लेकर रात्रि आठ बजे तक निर्बाध रूप से कार्य करेगा. आप कॉल सेंटर में पेयजल से जुड़ी समस्याओं की शिकायत करें. उसका त्वरित समाधान किया जायेगा. गर्मी को देखते हुए इसकी सुविधा बहाल की गयी है, ताकि पेयजल की किल्लत का सामना लोगों को नहीं करना पड़े.

ऐसे कर सकेंगे शिकायत

झारखंड में राज्यस्तरीय कॉल सेंटर का संचालन रांची के डोरंडा स्थित पीएमयू कार्यालय से किया जायेगा. इस कॉल सेंटर में जन शिकायतों को विभिन्न माध्यमों जैसे झारजल मोबाइल एप, व्हाट्सएप, ईमेल, टॉल फ्री नंबर आदि पर दर्ज करायी जा सकती है. सुबह आठ बजे से लेकर रात्रि आठ बजे तक निर्बाध रूप से ये कॉल सेंटर कार्य करेगा. आप अपनी शिकायत दर्ज करा सकेंगे.

इन नंबरों पर करें शिकायत

झारखंड के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर ने बताया कि इस कॉल सेंटर में टॉल फ्री नंबर 18003456502 एवं मोबाइल नंबर/व्हाट्सएप नंबर 9470176901, ईमेल आईडी callcentredwsd-jharkhand@gmail.com एवं jhar-jal mobile app पर शिकायत दर्ज करायी जा सकेगी.

ऐसे होगी कार्रवाई

झारखंड के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्री मिथिलेश कुमार ठाकुर ने कहा कि जनता से प्राप्त शिकायतों की कॉल सेंटर के कर्मियों द्वारा jharjal-jharkhand.gov.in पर इंट्री की जायेगी. सभी शिकायतों को संबंधित पदाधिकारियों को भेजते हुए वेब पोर्टल से बेहतर प्रबंधन एवं अनुश्रवण करने का निर्देश दिया जायेगा.