यूक्रेन पर कब्जे के लिए रूस ने हमले किए तेज, इवानों, फ्रैंकिव्स्क और लुत्स्क में किया एयर स्ट्राइक


इवानो-फ्रैंकिव्स्क के मेयर रुस्लान मार्टसिंकीव ने हवाई हमले संबंधी अलर्ट जारी होने के बाद स्थानीय लोगों से सुरक्षित स्थानों पर जाने की अपील की है. इसके साथ ही, लुत्स्क के मेयर ने भी हवाई अड्डे के पास हवाई हमले की जानकारी दी है.
रूस-यूक्रेन युद्ध का आज 16वां दिन

मारियुपोल/नई दिल्ली : रूस-यूक्रेन युद्ध का आज 16वां दिन है. रूस यूक्रेन को घुटने टेकने पर मजबूर करने के साथ ही उस पर कब्जे को लेकर आमादा है. वहीं, यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की व्लादिमीर पुतिन के आगे झुकने का नाम नहीं ले रहे हैं. उनके अड़ियल रवैये और अमेरिका-ब्रिटेन की उकसाऊ रणनीति के बाद रूस ने यूक्रेन के पश्चिमी शहर इवानों, फ्रैंकिव्स्क और लुत्स्क में हवाई हमले तेज कर दिए हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, रूस ने यूक्रेन के पश्चिमी शहरों इवानो, फ्रैंकिव्स्क और लुत्स्क में हवाई अड्डों के पास हमले किए, जो यूक्रेन में रूस के हमले के प्रमुख लक्ष्यों से काफी दूर हैं.

मीडिया की रिपोर्ट्स के अनुसार, इवानो-फ्रैंकिव्स्क के मेयर रुस्लान मार्टसिंकीव ने हवाई हमले संबंधी अलर्ट जारी होने के बाद स्थानीय लोगों से सुरक्षित स्थानों पर जाने की अपील की है. इसके साथ ही, लुत्स्क के मेयर ने भी हवाई अड्डे के पास हवाई हमले की जानकारी दी है. ये दोनों ही शहर रूस के अभी तक के प्रमुख निशाना रहे इलाकों से काफी दूर हैं. इन शहरों पर हमले रूस द्वारा युद्ध को एक नई दिशा में ले जाने का संकेत देते हैं.

रिपब्लिकन सांसदों ने बाइडन प्रशासन पर बनाया दबाव

उधर, अमेरिका में रिपब्लिकन पार्टी के कई सांसदों ने बाइडन प्रशासन पर अपना रुख बदलने का दबाव बनाते हुए उससे यूक्रेन में रूसी हमलों से निपटने के लिए पोलैंड के मिग लड़ाकू विमान भेजने की अनुमति देने की मांग की है. रिपब्लिकन पार्टी के 40 सांसदों ने अयोवा से सांसद जोनी अर्न्स्ट और ऊटा से सांसद मिट रोमनी द्वारा तैयार एक पत्र पर दस्तखत किए हैं.

इस पत्र में राष्ट्रपति जो बाइडन से यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की की उस अपील का जवाब देने की मांग की गई है, जिसमें उन्होंने बीते सप्ताहांत अमेरिकी सांसदों से कहा था कि अगर अमेरिका देश के हवाई क्षेत्र को उड़ान निषेध क्षेत्र घोषित नहीं कर सकता है तो कम से कम वह रूसी हमलों से निपटने के लिए कीव को अतिरिक्त लड़ाकू विमान तो भेज ही सकता है.

बातचीत बहुत हो चुकी, अब लड़ाकू विमान भेजो : अमेरिकी सांसद

संसद भवन में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में रोमनी ने कहा कि बातचीत बहुत हो चुकी. लोग मर रहे हैं. उन्हें जरूरी लड़ाकू विमान भेजें. मेन से रिपब्लिकन सांसद सुजैन कॉलिंस ने कहा कि विनाश देखना दर्दनाक है. खासतौर पर प्रसूती अस्पताल पर रूसी हमले जैसी घटनाओं को को देखना सबसे अधिक दर्दनाक है. यूक्रेन को जरूरी लड़ाकू विमान उपलब्ध न कराना अस्वीकार्य है.

Spread the News
By NewsXPress

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

संबंधित खबरें