अंतरराष्ट्रीय

अमेरिकी राजनयिक डोनाल्ड लू पाकिस्तानी सरकार को  गिराने की ”विदेशी साजिश” में शामिल थे – इमरान खान

अमेरिकी राजनयिक डोनाल्ड लू पाकिस्तानी सरकार को गिराने की ”विदेशी साजिश” में शामिल थे – इमरान खान

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने रविवार को आरोप लगाया कि वरिष्ठ अमेरिकी राजनयिक डोनाल्ड लू अविश्वास प्रस्ताव के जरिये उनकी सरकार को गिराने की ”विदेशी साजिश” में शामिल थे. नेशनल असेंबली के उपाध्यक्ष द्वारा विपक्ष के अविश्वास प्रस्ताव को खारिज किए जाने के बाद यहां पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के नेताओं की बैठक को संबोधित करते हुए खान ने कहा कि राष्ट्रीय सुरक्षा समिति की बैठक के दौरान भी यह पाया गया था कि अविश्वास प्रस्ताव के जरिये देश की आंतरिक राजनीति में हस्तक्षेप का प्रयास किया गया.

उन्होंने आरोप लगाया कि अमेरिकी विदेश विभाग में दक्षिण एशियाई मामलों को देखने वाले शीर्ष अमेरिकी राजनयिक डोनाल्ड उनकी सरकार गिराने की ”विदेशी साजिश” में शामिल थे. पाकिस्तान के विपक्षी दलों के नेताओं ने खान के आरोप को बेबुनियाद करार दिया जबकि अमेरिका ने आरोपों को खारिज किया.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को News Xpress की टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

दुबई से काले पॉलिथीन में ला रहा था 24 लाख का सोना, लखनऊ एयरपोर्ट पर जांच के दौरान पकड़ाया

दुबई से काले पॉलिथीन में ला रहा था 24 लाख का सोना, लखनऊ एयरपोर्ट पर जांच के दौरान पकड़ाया

Lucknow : लखनऊ एयरपोर्ट पर रविवार को एक यात्री के पास से 24 लाख रुपए की कीमत का सोना जब्त किया गया l यात्री ने अपने सामान में सोने से बनाए हुए फोइल पेपर छुपाया हुआ थाl दुबई से आए एक यात्री के सामान में कस्टम अधिकारियों को 460 ग्राम सोना मिला l

काले पॉलिथीन में मिला 24.38 लाख रुपए का सोना

अधिकारियों ने बताया कि जब्त किया गया सोना 24.38 लाख रुपये कीमत का है l यात्रियों के बैग की गहन जांच के दौरान, अधिकारियों को काले पॉलीथिन और कार्बन पेपर की परतों के बीच सोने की फोइल चिपके हुए मिले. यह उसके बैग के भीतरी हिस्से के नीचे छिपा हुआ था l

दोनों व्यक्तियों को किया गया गिरफ्तार

जांच के दौरान यात्री ने खुलासा किया कि उसे एयरपोर्ट के बाहर इंतजार कर रहे एक युवक को बैग सौंपना था l अधिकारियों ने दोनों व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया है और उन्हें मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (आर्थिक अपराध) के समक्ष पेश किया जाएगा l
सोमवार को दिल्ली में कस्टम अधिकारियों ने केन्या के दो लोगों के पास से 7.5 करोड़ रुपये का सोना जब्त किया था, जो हाल के दिनों में सबसे बड़ी बरामदगी में से एक है l

यूक्रेन पर कब्जे के लिए रूस ने हमले किए तेज, इवानों, फ्रैंकिव्स्क और लुत्स्क में किया एयर स्ट्राइक

यूक्रेन पर कब्जे के लिए रूस ने हमले किए तेज, इवानों, फ्रैंकिव्स्क और लुत्स्क में किया एयर स्ट्राइक

इवानो-फ्रैंकिव्स्क के मेयर रुस्लान मार्टसिंकीव ने हवाई हमले संबंधी अलर्ट जारी होने के बाद स्थानीय लोगों से सुरक्षित स्थानों पर जाने की अपील की है. इसके साथ ही, लुत्स्क के मेयर ने भी हवाई अड्डे के पास हवाई हमले की जानकारी दी है.
रूस-यूक्रेन युद्ध का आज 16वां दिन

मारियुपोल/नई दिल्ली : रूस-यूक्रेन युद्ध का आज 16वां दिन है. रूस यूक्रेन को घुटने टेकने पर मजबूर करने के साथ ही उस पर कब्जे को लेकर आमादा है. वहीं, यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की व्लादिमीर पुतिन के आगे झुकने का नाम नहीं ले रहे हैं. उनके अड़ियल रवैये और अमेरिका-ब्रिटेन की उकसाऊ रणनीति के बाद रूस ने यूक्रेन के पश्चिमी शहर इवानों, फ्रैंकिव्स्क और लुत्स्क में हवाई हमले तेज कर दिए हैं. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, रूस ने यूक्रेन के पश्चिमी शहरों इवानो, फ्रैंकिव्स्क और लुत्स्क में हवाई अड्डों के पास हमले किए, जो यूक्रेन में रूस के हमले के प्रमुख लक्ष्यों से काफी दूर हैं.

मीडिया की रिपोर्ट्स के अनुसार, इवानो-फ्रैंकिव्स्क के मेयर रुस्लान मार्टसिंकीव ने हवाई हमले संबंधी अलर्ट जारी होने के बाद स्थानीय लोगों से सुरक्षित स्थानों पर जाने की अपील की है. इसके साथ ही, लुत्स्क के मेयर ने भी हवाई अड्डे के पास हवाई हमले की जानकारी दी है. ये दोनों ही शहर रूस के अभी तक के प्रमुख निशाना रहे इलाकों से काफी दूर हैं. इन शहरों पर हमले रूस द्वारा युद्ध को एक नई दिशा में ले जाने का संकेत देते हैं.

रिपब्लिकन सांसदों ने बाइडन प्रशासन पर बनाया दबाव

उधर, अमेरिका में रिपब्लिकन पार्टी के कई सांसदों ने बाइडन प्रशासन पर अपना रुख बदलने का दबाव बनाते हुए उससे यूक्रेन में रूसी हमलों से निपटने के लिए पोलैंड के मिग लड़ाकू विमान भेजने की अनुमति देने की मांग की है. रिपब्लिकन पार्टी के 40 सांसदों ने अयोवा से सांसद जोनी अर्न्स्ट और ऊटा से सांसद मिट रोमनी द्वारा तैयार एक पत्र पर दस्तखत किए हैं.

इस पत्र में राष्ट्रपति जो बाइडन से यूक्रेनी राष्ट्रपति वोलोदिमिर जेलेंस्की की उस अपील का जवाब देने की मांग की गई है, जिसमें उन्होंने बीते सप्ताहांत अमेरिकी सांसदों से कहा था कि अगर अमेरिका देश के हवाई क्षेत्र को उड़ान निषेध क्षेत्र घोषित नहीं कर सकता है तो कम से कम वह रूसी हमलों से निपटने के लिए कीव को अतिरिक्त लड़ाकू विमान तो भेज ही सकता है.

बातचीत बहुत हो चुकी, अब लड़ाकू विमान भेजो : अमेरिकी सांसद

संसद भवन में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में रोमनी ने कहा कि बातचीत बहुत हो चुकी. लोग मर रहे हैं. उन्हें जरूरी लड़ाकू विमान भेजें. मेन से रिपब्लिकन सांसद सुजैन कॉलिंस ने कहा कि विनाश देखना दर्दनाक है. खासतौर पर प्रसूती अस्पताल पर रूसी हमले जैसी घटनाओं को को देखना सबसे अधिक दर्दनाक है. यूक्रेन को जरूरी लड़ाकू विमान उपलब्ध न कराना अस्वीकार्य है.