17वीं बिहार विधान सभा के सत्र का आगाज आज से, दमदार विपक्ष, सत्तापक्ष भी तैयार

Bihar

पांच दिनों के इस सत्र के दौरान तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) के नेतृत्व में विपक्ष पूरे तौर पर हमलावर रहेगा विपक्षी दलों ने लॉ एंड ऑर्डर से लेकर स्वास्थ्य और रोजी- रोजगार समेत विभिन्न मुद्दों को लेकर सदन के बाहर से लेकर अंदर तक सरकार को घेरने की तैयारी कर रखी है.

पटना. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar)  के नेतृत्व में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) की नई सरकार के गठन के बाद अब 17वीं बिहार विधान सभा (Bihar Legislative Assembly) का सत्र आज से आगाज जो रहा है, जो 27 नवंबर तक चलेगा. नव निर्वाचित विधायकों के स्वागत के लिए विधानसभा को तैयार किया गया है. कोरोना के खतरे को देखते हुए सत्र का आयोजन सेंट्रल हाल में किया जाएगा. कोविड-19 के संक्रमण के बीच आयोजित होने वाले इस पांच दिवसीय सत्र में सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर जहां कई नयापन देखने को मिलेंगे, वहीं पहली बार चुनकर आए, दूसरी बार चुनकर आए और एक या इससे अधिक अंतराल के बाद चुनकर आए सदस्यों के अलग-अलग स्तरों के उत्साह का भी यह सत्र गवाह बनेगा.

पांच दिनों के इस सत्र के दौरान तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) के नेतृत्व में विपक्ष पूरे तौर पर हमलावर रहेगा विपक्षी दलों ने लॉ एंड ऑर्डर से लेकर स्वास्थ्य और रोजी- रोजगार समेत विभिन्न मुद्दों को लेकर सदन के बाहर से लेकर अंदर तक सरकार को घेरने की तैयारी कर रखी है. 17वीं विधानसभा के पांच दिवसीय सत्र का पहला दो दिन सदस्यों के लिहाज से खासा महत्वपूर्ण होगा जबकि शेष तीन दिन विधायी कार्यों को लेकर बेहद अहम हैं.

बता दें कि 243 सदस्यीय बिहार विधानसभा में 43.2 प्रतिशत यानी 105 ऐसे सदस्य आए हैं जो पहली बार विधानसभा की सदस्यता की शपथ लेंगे. पिछली विधानसभा के सदस्य रहे 98 यानी  40.3 फीसदी सदस्य इस विधानसभा में दोबारा जीतकर आए हैं. वहीं अंतराल (ब्रेक) के बाद जीतकर फिर विधानसभा पहुंचे 40 (16.46 प्रतिशत) सदस्य भी सदस्यता लेंगे.



मिली जानकारी के अनुसार सबसे पहले उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद, फिर रेणु देवी शपथ लेंगे. इसके बाद मंत्री विजय कुमार चौधरी, बिजेन्द्र प्रसाद यादव, शीला कुमारी, अमरेन्द्र प्रताप सिंह, डा. रामप्रीत पासवान, जीवेश मिश्रा, रामसूरत राय क्रमश: शपथ लेंगे. फिर सदस्यों की बारी आएगी.प्रोटेम स्पीकर जीतनराम मांझी सदस्यों को शपथ दिलायेंगे जबकि उनके नाम विधानसभा के सचिव पुकारेंगे. विस क्षेत्र 1 वाल्मीकिनगर से संख्यावार सदस्यों को शपथ दिलायी जाएगी.
सत्र को लेकर सुरक्षा की चाक-चौबंद व्यवस्था की गई है. सुरक्षा व्यवस्था मुकंबल हो इसको लेकर पटना के प्रभारी SSP डी अमरकेश ने  सदन के मुख्य द्वार से लेकर सदन के पूरे परिसर में 800 पुलिस कर्मियों को तैनात किया. साथ ही विधानसभा के पूरे परिसर पर CCTV कैमरों से नजर रखी जायेगी.

News Article & Images Source: https://hindi.news18.com/

Leave a Reply