छत्तीसगढ़ में कोरोना के 2284 नए मामले आए सामने, अब तक 2713 लोगों की मौत

Chhattisgarh

छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में अब तक 2,21,688 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. 1,98,316 मरीज इलाज के बाद संक्रमण मुक्त हुए हैं,

रायपुर. छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना वायरस (Corona virus) संक्रमण के 2284 नए मामले सामने आए , जिसके बाद राज्य में संक्रमितों की संख्या 2,21,688 हो गई. राज्य के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि शनिवार को संक्रमण के 2284 नए मामले सामने आए हैं. इनमें रायपुर जिले से 273, दुर्ग से 128, राजनांदगांव से 171, बालोद से 141, बेमेतरा से 59, कबीरधाम से 43, धमतरी से 46, बलौदाबाजार (Balodabazar) से 124, महासमुंद से 67, गरियाबंद से 49, बिलासपुर से 116, रायगढ़ से 224, कोरबा से 238, जांजगीर,चांपा से 229, मुंगेली से 31, गौरेला,पेंड्रा,मरवाही से 19, सरगुजा से 55, कोरिया से 49, सूरजपुर से 18, बलरामपुर से 25, जशपुर से 41, बस्तर से 23, कोंडागांव से 20, दंतेवाड़ा से 47, सुकमा से छह, कांकेर से 22, नारायणपुर से तीन, बीजापुर से 11, तथा अन्य राज्य से छह मरीज शामिल हैं.


अधिकारियों ने बताया कि छत्तीसगढ़ में अब तक 2,21,688 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि हुई है. 1,98,316 मरीज इलाज के बाद संक्रमण मुक्त हुए हैं, राज्य में 20,659 मरीज उपचाराधीन हैं. राज्य में वायरस से संक्रमित 2713 लोगों की मौत हुई है. राज्य के रायपुर जिले में सबसे अधिक 44,570 लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि की गई है. जिले में कोरोना वायरस संक्रमित 642 लोगों की मौत हुई है.



उधर राजस्थान में रात का कर्फ्यू लागू
उधर राजस्थान में कोरोना वायरस संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए राज्य सरकार (State Government) ने रात का कर्फ्यू (Night Curfew) लागू कर दिया है. शनिवार की शाम मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (CM Ashok Gehlot) की अध्यक्षता में मंत्री परिषद की हुई बैठक (कैबिनेट मीटिंग) में यह निर्णय लिया गया. इसके तहत प्रदेश के सबसे ज्यादा आठ जिलों- जयपुर, जोधपुर, कोटा, बीकानेर, उदयपुर, अजमेर और भीलवाड़ा में 20 दिसंबर तक रात्रि कर्फ्यू लगाने का फैसला किया गया है. सभी संभाग मुख्यालयों में रात आठ बजे से सुबह छह बजे तक रात्रि कर्फ्यू लागू रहेगा. साथ ही बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि एक जगह लोग इकट्ठा न हों इसके लिए शादी-विवाह समारोह में अब केवल 50 लोगों को ही शामिल होने की इजाजत होगी. साथ ही क्रिटिकल जिलों के सरकारी दफ्तरों में 85 फीसदी कर्मचारियों को ही बुलाया जाएगा. वहीं मास्क नहीं पहनने पर लगाए जाने वाले जुर्माने को 200 रुपए से बढ़ाकर अब 500 रूपए कर दिया गया है.

News Article & Images Source: https://hindi.news18.com/

Leave a Reply