खुद को बताया सेना का अफसर, शादी के नाम पर 17 लोगों से ठगे 6.61 करोड़ रुपये

National

पूछताछ में आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह मैरिज ब्‍यूरो या अपने परिचितों के जरिए ऐसे परिवारों की तलाश करता है, जो अपनी बेटियों की शादी करना चाहते हैं.

नई दिल्‍ली. हैदराबाद (Hyderabad) में ठगी का एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसने सभी को हैरान करके रख दिया है. दरअसल यहां एक व्‍यक्ति ने खुद को सेना का अफसर बताकर करीब 17 लोगों के साथ ठगी की. यह ठगी उसने अपनी शादी के नाम का झांसा देकर की. उसने इस ठगी में 17 लोगों से 6.61 करोड़ रुपये ऐंठ लिए. हालांकि बाद में पुलिस ने खुद को सेना का अफसर बताने वाले इस फर्जी व्‍यक्ति को गिरफ्तार कर लिया है.

जानकारी के मुताबिक आरोपी का नाम मधुवथ श्रीनु नायक उर्फ श्रीनिवास चौहान है. वह आंध्र प्रदेश के प्रकाशम जिले के केल्‍लमपल्‍ली गांव का निवासी है. उसकी गिरफ्तारी के बाद पता चला है कि उसने ठगी के पैसों से सैनिकपुरी में एक मकान, तीन कारें और ऐशो आराम के दूसरे साधन जुटाए थे. पुलिस को उसके पास से तीन नकली पिस्‍टल, सेना की तीन वर्दी, एक फर्जी आर्मी आईडी कार्ड और कुछ फर्जी दस्‍तावेज बरामद हुए हैं. पुलिस ने उसके 85 हजार रुपये के साथ ही तीन कारें भी जब्‍त कर ली है.




पुलिस ने उसके संबंध में पूरी जानकारी दी है. पुलिस के अनुसार मधुवुथ 9वीं तक पढ़ा है. पर उसके पास पोस्‍ट ग्रैजुएशन की फर्जी डिग्री भी है. उसकी पत्‍नी का नाम अमृता देवी है. उसका एक बेटा है, जो इंटर में पढ़ता है. उसके बीवी बच्‍चे इस समय आंध्र प्रदेश के गुंटूर जिले में रहते हैं. लेकिन वह खुद हैदराबाद में सैनिकपुरी, जवाहर नगर में रहता है. उसने अपने परिवार को बताया कि उसे इंडियन आर्मी में नौकरी मिल गई है और वह मेजर बन गया है.

पुलिस को उसके पास से एक फर्जी आधार कार्ड भी बरामद हुआ है. इसमें उसने अपनी जन्‍मतिथि 12-7-1979 की जगह 27-7-1986 दिखाई है. पूछताछ में उसने पुलिस को बताया कि वह मैरिज ब्‍यूरो या अपने परिचितों के जरिए ऐसे परिवारों की तलाश करता है, जो अपनी बेटियों की शादी करना चाहते हैं. इसके बाद वह अपने नकली आर्मी आईडी कार्ड और फोटो लड़की के घरवालों को दिखाता है और उन्हें अपने ठगी के जाल में फंसा लेता है.

News Article & Images Source: https://hindi.news18.com/

Leave a Reply