यूपी में थानेदारों की पोस्टिंग पर DGP सख्त, अफसरों को पत्र लिखकर दी हिदायत

Uttar Pradesh

डीजीपी (DGP) ने पत्र में आगे कहा गया कि यदि किसी थाने पर एक से अधिक निरीक्षकों की तैनाती की जाती है तो यह ध्यान में रखा जाए कि सबसे वरिष्ठ अधिकारी को ही प्रभारी निरीक्षक (SHO) बनाया जाए.

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में थानेदारों (SHO) की मनमानी पोस्टिंग पर डीजीपी एचसी अवस्थी (DGP HC Awasthi) ने नाराजगी जताई है, दरअसल, मनमानी पोस्टिंग को लेकर कई जिलों से उनके पास शिकायत पहुंची थी, जिसके बाद उन्होंने खुद पत्र लिखकर अफसरों को निर्देश दिए. पत्र में कहा गया है कि प्रदेश के दो तिहाई थाने जो निरीक्षक स्तर के अधिकारियों के लिए चिन्हित किए गए हैं, उनमें सिर्फ निरीक्षक स्तर के ही योग्य अधिकारियों की तैनाती की जाएगी.

साथ ही कहा गया है कि उपनिरीक्षक स्तर के किसी भी अधिकारी को इन थानों में थाना प्रभारी के रूप में तैनात नहीं किया जाएगा. डीजीपी ने पत्र में आगे कहा गया कि यदि किसी थाने पर एक से अधिक निरीक्षकों की तैनाती की जाती है तो यह ध्यान में रखा जाए कि सबसे वरिष्ठ अधिकारी को ही प्रभारी निरीक्षक बनाया जाए.

यूपी डीजीपी ने अफसरों को लिखा पत्र

यूपी डीजीपी ने अफसरों को लिखा पत्र



उन्होंने कहा कि जनपदों में थानाध्यक्षों प्रभारी निरीक्षकों की नियुक्ति में अनुसूचित जाति/ जनजाति/ पिछड़ी जाति समुदाय में आरक्षण विषयक जारी शासनादेश दिनांक 18.07.2007 को अनुपालन सुनिश्चित किया जाए. उधर, डीजीपी के आदेश के बाद पुलिस महकमे में चर्चा बनी हुई है.

News Article & Images Source: https://hindi.news18.com/

Leave a Reply