विंध्‍य, बुंदेलखंड को कांग्रेस, सपा व बसपा ने हमेशा लूटने का काम किया : BJP

Uttar Pradesh

विंध्‍य क्षेत्र में साढ़े पांच हजार करोड़ रुपये की पाइप पेयजल परियोजना शुरू किए जाने पर उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के प्रति आभार जताया है.

लखनऊ. भाजपा (BJP) की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह (Swatantra Dev Singh) ने रविवार को कहा कि कांग्रेस (Congress), सपा (SP) और बसपा (BSP) ने विंध्य और बुंदेलखंड क्षेत्र के संसाधनों को हमेशा लूटने में रुचि दिखाई है, लेकिन भाजपा सरकार अब इस क्षेत्र का विकास कर रही है. विंध्‍य क्षेत्र में साढ़े पांच हजार करोड़ रुपये की पाइप पेयजल परियोजना शुरू किए जाने पर सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के प्रति आभार जताया है.

भाजपा प्रदेश मुख्‍यालय से जारी विज्ञप्ति में सिंह ने कहा कि बुंदेलखंड और विंध्य क्षेत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने 41 लाख लोगों को शुद्ध पेयजल पहुंचाने का महाभियान शुरू किया है. उन्‍होंने कहा कि भाजपा सरकार पूरे प्रदेश में ‘हर घर नल’ योजना पहुंचाने के लिए कटिबद्ध है और इस योजना से न केवल लोगों के जीवनस्तर में सुधार आएगा, बल्कि उन्हें उत्तम स्वास्थ्य का भी लाभ मिलेगा.

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष ने कांग्रेस, सपा और बसपा पर इन क्षेत्रों का विकास न करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा ‘कांग्रेस ने बुंदेलखंड पैकेज के नाम पर लूट की, तो उसके बड़े नेताओं ने सोनभद्र और मिर्जापुर में आदिवासियों की जमीनें हथिया लीं. वहीं सपा-बसपा सरकार में बैठे खनन माफिया ने बुंदेलखंड और विंध्य को खंडहर बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी.’



गौरतलब है कि पेयजल संकट से जूझ रहे सोनभद्र व मिर्जापुर को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व सूबे के मुखिया योगी आदित्यनाथ 5,555 करोड़ की 23 ग्रामीण पेयजल परियोजना की सौगात दिया. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोनभद्र में मौजूद थे, जबकि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से इस उद्घाटन समारोह से जुड़े थे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना काल में यूपी सरकार के विकास कार्यों की जमकर तारीफ की. उन्होंने कहा कि 5555 करोड़ रुपए की हर घर नल योजना से तीन हजार गांवों के 41 लाख लोगों को सीधे नल से पानी मिलेगा, जो एक बहुत बड़ी उपलब्धि है. सोन, गंगा, बेलन, कर्मनाशा और शिप्रा जैसी नदियां होने के बाद भी बुंदेलखंड सूखा प्रभावित रहा है. पानी की कमी के चलते यहां से पलायन भी हुआ. सरकार ने बुंदेलखंड और विंध्य क्षेत्र के हर घर तक नल से पानी पहुंचाने का काम शुरू किया है, वह बहुत ही सराहनीय है. उन्होंने सोनभद्र जिले की 14 और मीरजापुर जिले की नौ पेयजल परियोजनाओं का शुभारंभ किया. इस योजना से बुंदेलखंड के सूखाग्रस्त इलाकों में रहने वाले लोगों को सीधे नल से पानी मिलेगा.
(इनपुट : भाषा)

News Article & Images Source: https://hindi.news18.com/

Leave a Reply