MP: इमरती देवी को हराने का इनाम! कमलनाथ की जगह ले सकती हैं कांग्रेस की यह नेता

Madhya Pradesh National Sports

नॉर्थईस्ट यूनाइटेड (NorthEast United FC) ने खोला जीत से खाता, अच्छा खेल दिखाने के बावजूद हार गई मुंबई सिटी एफसी (Mumbai City)

नई दिल्ली. घाना के पूर्व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी क्वेसी अपैया के गोल के दम पर नॉर्थईस्ट यूनाइटेड (NorthEast United FC) ने शनिवार को यहां मुंबई सिटी एफसी (Mumbai City) को 1-0 से हराकर इंडियन सुपर लीग (ISL 2020) फुटबॉल प्रतियोगिता में शानदार आगाज किया. मुंबई ने पहले 45 मिनट में 306 पास किए, लेकिन वह एक भी शॉट निशाने पर नहीं लगा पाई. पहले हाफ में मुंबई सिटी के अहमद जाहो को लाल कार्ड दिखाया गया. जाहो के मैदान से जाने के 10 खिलाड़ियों के साथ खेल रही मुंबई की मुश्किलें बढ़ गयी.
मोरक्को के जाहो को यह लाल कार्ड नॉर्थईस्ट के खासा कामरा को गिराने के कारण दिया गया. इसके बाद दोनों टीमें हाफ टाइम तक गोलरहित थी.

दूसरे हाफ में दिखा दमदार खेल
दूसरे हाफ में नॉर्थईस्ट यूनाइटेड की टीम ने मुंबई के एक खिलाड़ी के कम होने का बखूबी फायदा उठाया. हाइलैंडर्स ने आक्रामक फुटबाल खेलना शुरू कर दिया, जिसका उसे फायदा भी मिला. मैच के 47वें मिनट में नॉर्थईस्ट यूनाइटेड के आस्ट्रेलियाई डिफेंडर डायलन फॉक्स का हेडर मुंबई सिटी के रॉवलिन बोर्जेस के हाथ से टकरा गया. इस पर रेफरी ने नॉर्थईस्ट यूनाइटेड को पेनाल्टी दे दिया. अपैया ने इस पेनाल्टी को गोल में तब्दील करके नॉथईस्ट यूनाइटेड एफसी को 1-0 से आगे कर दिया. मुंबई के पास 66वें मिनट में बराबरी का गोल दागने का मौका था, लेकिन इस बार डिफेंडर सार्थक गोलुइ का हेडर से लगाया गया शॉट गोल पोस्ट के कुछ इंच ऊपर से निकल गया. अंतिम मिनटों में मुंबई की टीम ने बराबरी का गोल करने के लिए कई प्रयास किए, लेकिन वो इसमें सफल नहीं हो पाई
एफसी गोवा और बेंगलुरू एफसी के बीच टक्कर
नये मुख्य कोच और नये विदेशी खिलाड़ियों की मौजूदगी से मजबूत हुई एफसी गोवा की टीम रविवार को बेंगलुरू एफसी के खिलाफ अपना इंडियन सुपर लीग (ISL 2020) अभियान शुरू करेगी. नये लुक वाली एफसी गोवा इस बार पिछले प्रदर्शन से बेहतर करना चाहेगी जिसने एक भी बार आईएसएल ट्राफी अपने नाम नहीं की है जबकि वह 2018 और 2015 में उप विजेता रही थी. लेकिन इस बार कोच जुआन फेरांडो की टीम के लिये चीजें आसान नहीं होंगी. फेरांडो चाहते हैं कि क्लब आक्रामक फुटबॉल खेलना जारी रखे जो वे अपने पूर्व कोच सर्गियो लोबेरा के मार्गदर्शन में खेलते थे.



फेरांडो ने कहा, ‘हम आक्रामक फुटबॉल खेलना जारी रखेंगे. मेरे पद में यही चीज मुझे आकर्षित लगी क्योंकि मैं इसी तरह की फुटबॉल में भरोसा करता हूं. ‘ वहीं दूसरी ओर बेंगलुरू की टीम एक बार आईएसएल का खिताब अपने नाम कर चुकी है और वह भी जीत के साथ शुरूआत करना चाहेंगी जिसमें उसके स्टार स्ट्राइकर सुनील छेत्री अहम भूमिका अदा करेंगे. बेंगलुरू टीम काफी बेहतरीन इकाई है और वह गोवा की टीम के लिये कड़ी प्रतिद्वंद्वी साबित होगी. छेत्री अकेले दम पर मैच का रूख बदल सकते हैं और मजबूत टीम के साथ बेंगलुरू एफसी को हराना किसी भी टीम के लिये टेढ़ी खीर होगी. टीम में अनुभवी गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू भी शामिल हैं जो छेत्री जितने ही महत्वपूर्ण है. फेरांडो ने मैच की पूर्व संध्या पर आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में बेंगलुरू एफसी को ‘बहुत अच्छी टीम’ करार दिया लेकिन साथ ही कहा कि उनकी टीम काफी सकारात्मक है.

News Article & Images Source: https://hindi.news18.com/

Leave a Reply