एमपी में हुई पहली काऊ कैबिनेट की बैठक, ये हुए अहम फैसले

Madhya Pradesh Rajasthan

किसान आंदोलन (Farmer Protest) के मद्देनजर एहतियात के तौर पर रेलवे ने अजमेर-जम्मूतवी स्पेशल ट्रेन रद्द कर दिया है. साथ ही कुछ गाड़ियों के रूट बदल दिए हैं.

जयपुर. किसान आंदोलन (Farmer Protest) का असर अब सीधे तौर पर रेल यातायात पर पड़ने लगा है. आंदोलन के मद्देनजर रेलवे ने एक बड़ा फैसला लिया है. रेलवे ने किसान आंदोलन के कारण जम्मूतवी-अजमेर-जम्मूतवी स्पेशल ट्रेन को रद्द (Train Cancel) कर दिया है. इसके साथ ही डिब्रुगढ-लालगढ-डिब्रुगढ ट्रेन का रूट डायवर्ट कर दिया गया है. इसके साथ ही जयपुर- दौलतपुर चौक- जयपुर रेल सेवा का आंशिक रद्दकरण कर दिया गया है.

ये ट्रेन की गई रद्द



1. 02422 जम्मूतवी-अजमेर प्रतिदिन 22.11.20 को
2. 02421 अजमेर-जम्मूतवी प्रतिदिन 23.11.20 को
इन ट्रेनों का किया गया रूट डायवर्ट

1. गाडी संख्या 05909, डिब्रुगढ-लालगढ रेलसेवा जो दिनांक 20.11.20 को डिब्रुगढ से चलने वाली रेलसेवा परिवर्तित मार्ग वाया रोहतक-भिवानी-हिसार-सादुलपुर-हनुमानगढ होकर संचालित होगी.
2. गाडी संख्या 05910, लालगढ-डिब्रुगढ रेलसेवा दिनांक 22.11.20 को लालगढ से प्रस्थान करने वाली रेलसेवा परिवर्तित मार्ग वाया हनुमानगढ-सादुलपुर-हिसार-भिवानी-रोहतक होकर संचालित होगी.

आंशिक रद्दकरण वाली ट्रेन

1. गाड़ी संख्या 09717, जयपुर- दौलतपुर चौक रेल सेवा जो दिनांक 22.11.2020 को जयपुर से प्रस्थान होगी वह अंबाला तक की संचालित की जाएगी। अर्थात यह रेल सेवा अंबाला – दौलतपुर चौक के मध्य रद्द रहेगी.
2. गाड़ी संख्या 09718 दौलतपुर चौक – जयपुर रेल सेवा जो दिनांक 23.11.2020 को रवाना होगी वह अंबाला से जयपुर के मध्य संचालित की जाएगी। अर्थात यह रेल सेवा दौलतपुर चौक – अंबाला के मध्य रद्द रहेगी.

ये भी पढ़ें: PHOTOS: आठ महीने बाद सात अर्चकों के साथ फिर लौटी बनारस की गंगा आरती 

गहलोत सरकार का बड़ा फैसला

अन्य राज्यों के साथ-साथ राजस्थान में भी कोरोना वायरस के मामले कम होने के नाम नहीं ले रहे हैं. यहां पर सैकड़ों कोरोना मरीज  रोज सामने आ रहे हैं. ऐसे में कोरोना के खिलाफ कड़ी लड़ाई लड़ने के लिए सरकार ने फिर से कमर कस ली है. अब खबर है कि कोरोना के बढ़ते मामले को देखते हुए अशोक गहलोत की सरकार ने आज से पूरे राजस्थान में धारा 144 लागू कर दी है. शुक्रवार को एक दिन में रिकॉर्ड तोड़ 2762 कोरोना पोजिटिव सामने आए. इसके बाद सरकार ने आनन-फानन में यह फैसला लिया. कहा जा रहा है कि दिवाली के बाद देश के छह फीसदी मरीज राजस्थान में मिले हैं. यहां पर पांच दिन में कोरोना के 13436 मरीज मिले हैं.

4 लोगों से ज्यादा के एकत्र होने पर रहेगा प्रतिबंध
धारा-144 लागू होने के बाद एक जगह पर 4 लोगों से ज्यादा के एकत्र होने पर प्रतिबंध लग जायेगा. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना के तेजी से फैल रहे संक्रमण के मद्देनजर लोगों से बड़ी संख्या में एक जगह एकत्र नहीं होने की अपील की है. राज्य सरकार ने यह फैसला जनहित में किया है. गहलोत ने सभी से अपील है कि इसका पालन करें. सरकार बल प्रदर्शन की बजाय चाहती है कि इसका पालन करने में पब्लिक आगे बढ़कर सहयोग करे.

News Article & Images Source: https://hindi.news18.com/

Leave a Reply